महिलाये नहीं कर सकती इन धार्मिक स्थलों में प्रवेश।

756.jpg

लेखिका: शिक्षा सिंह

भारत में वैसे तो पुरुष और महिलाओ के एक सामान होने की बात पर आज कल हर जगह जंग  छिड़ी रहती है जहाँ हर कोई यही बोलता है की महिलाये अब किसी भी क्षेत्र में पुरषो से कम नहीं है लेकिन अभी भी भारत में कुछ ऐसे मंदिर मस्जिद है जहाँ पर महिलाओ के अंदर जाने पर पाबन्दी है। 

1. पद्मनाभस्वामी मंदिर , केरल 

भारत के सबसे अमीर मंदिर के रूप में जाना जाता केरल में त्रिवेंद्रम में स्तिथ पद्मनाभस्वामी मंदिर | यह मंदिर में महिलाओ का अंदर आना वंचित  हैं। भारत के प्रमुख वैष्णव मंदिर में शामिल यह मंदिर एक मुख्य पर्यटक स्थल है। यह भगवन विष्णु का मंदिर है और माना जाता है की सबसे पहले विष्णु भगवान  की प्रतिमा यही प्राप्त हुई थी और उस के बाद उसी जगह पर मंदिर बना दिया गया था। 

2. सबरीमाला श्री अयप्पा मंदिर : 

 यह मंदिर भी केरल का बहुत ही भव्य मंदिरो में से एक हैं और यहाँ पर हर साल देश से ही नहीं बल्कि विदेश से भी बहुत लोग आते है दर्शन के लिए। इस मंदिर की काफी मान्यता है और इस मंदिर में भी 10-15 साल से महिलाओ को अंदर जाना मना हैं। 

3. कार्तिकेय मंदिर , पुष्कर , राजस्थान 

 राजस्थान में स्थित यह मंदिर कार्तिकेय भगवान  का मंदिर है और यहाँ पर भी महिलाये अंदर नहीं जा सकती हैं। सिर्फ पुरुष ही इस मंदिर में पूजा करने के लिए अंदर जाते हैं 

4. मुक्तागिरी जैन मंदिर, मध्य प्रदेश 

यह मंदिर मध्य प्रदेश के गुना गांव में स्थित है और यह मंदिर जैनो का प्रसिद्ध मंदिर है।  यहाँ पर महिलाओ को पाश्चात्य परिधान पहनकर अंदर जाने से मना कर दिया जाता हैं 

5.  हाजी अली दरगाह , मुंबई 

 बाबा हाजी अली शाह बुखारी की दरगाह विश्व भर में प्रसिद्ध है और यहाँ अलग अलग जगह से अलग अलग धर्मो के लोग आते हैं। लेकिन इस दरगाह में भी सबसे भीतरी हिस्से में महिलाओ का जाना वर्जित हैं। 

6 . हजरत निजामुद्दीन औलिया दरगाह , दिल्ली 

इस दरगाह में भी महिलाओ को अंदर नहीं जाने दिया जाता है। महिलाये दरगाह में सबसे भीतरी हिस्से में नहीं जा सकती हैं 

7. जामा मस्जिद ,दिल्ली 

भारत की सबसे बड़ी मस्जिद जामा मस्जिद में भी महिलाओ को अंदर अंदर नहीं जाने दिया जाता हैं।