वास्तु शास्त्र अनुसार गर्भवती महिला और शिशु के अच्छे स्वास्थ्य के लिए कमरे

439.jpg

लेखक: सोनू शर्मा

ऐसा माना जाता है की गर्भावस्था में महिला को अपने आस पास सकारात्मक वातावरण रखना चाहिए ताकि शिशु पे कोई बुरा प्रभाव न पड़े । वास्तु शास्त्र में ऐसे कुछ चीज़े बताई गई है जिन्हे कमरे से रखने से नकारात्मक प्रभाव ख़त्म हो जाता है और ये महिला और शिशु दोनों का स्वास्थ ठीक रहता है -

  1. मोर पंख -  शास्त्रों के अनुसार मोर पंख को या तो घर के मंदिर में या फिर प्रेग्नेंट महिला के कमरे में रखना चाहिए, ये होने वाले बच्चे के स्वास्थ के लिए शुभ माना जाता है ।

  2. पीले चावल - पीले चावल अक्सर पूजा में इस्तेमाल होते है और इन्हे बहुत शुभ माना जाता है इसीलिए प्रेग्नेंट महिला के कमरे में पीले चावल रखे जाते है ताकि नेगेटिव ऊर्जा खत्म हो जाए ।

  3. हंसते-मुस्कुराते बच्चों की तस्वीर - अक्सर देखा जाता है की गर्भवती महिला के कमरे में हंसते-मुस्कुराते बच्चों की तस्वीर लगी होती है, माना जाता है जैसी चीजे हम देखते है शिशु पर उसका प्रभाव पड़ता है और शिशु भी वैसा ही होता है, हंसते-मुस्कुराते हुए बच्चे की तस्वीर देखने से महिला का शिशु भी हंसमुख स्वाभाव का होता है ।

  4. तांबे की कोई वस्तु - कहा जाता है की तांबा बहुत शुभ होता है और ये नकारात्मक प्रभाव को ख़त्म करके सकारात्मकता लाता है इसीलिए प्रेग्नेंट महिला के रूम में तांबे की वस्तु जरूर रखनी चाहिए ।

  5. सफ़ेद रंग की तस्वीर या शो-पीस - सफेद रंग का कोई भी सामान चाहे वह तस्वीर हो या शोपीस प्रेग्नेंट लेडी के रूम में जरूर रखना चाहिए क्योकि सफेद रंग शांति और सकारात्मकता का सूचक है ।